एससीएसएस संगोष्ठी

सेमिनार @ एससी एवं एसएस

 

शोध, कार्य इत्यादि के संबंधित क्षेत्रों के प्रजनकों द्वारा मूल्यों से परे यह सूचना देने का एक महान अवसर है। विद्यालय में चल रहे शोध एवं कंप्यूटर विज्ञान में शामिल हुई नयी तकनीकियों, साथ ही उद्योग द्वारा शामिल की गयी नयी कार्य प्रणाली को समझने हेतु, कम से कम एक बार हफ्ते में सेमीनार का आयोजन किया जाता है।

विद्यालय समकालीन दुनिया के व्यावसायिक व्यक्तियों द्वारा विचार, सोच एवं जानकारी अर्जित करता है अर्थात, हम कंप्यूटर विज्ञान के सभी पहलुओं से विद्वानों एवं शोधकर्ताओं को आमंत्रित करतें हैं। हम कार्यक्रम के मुख्य व्यक्ति के साथ बहुत से प्रश्नों के साथ जानकारी हासिल करतें हैं, एवं अपने विचारों का आदान-प्रदान करतें हैं। यह शैक्षणिक रुदिवादी कार्य को आकर्षित शोध एवं जानकारी के साथ और अधिक रुचिकर बनाने की एक प्रक्रिया है।

क्रियाशील सेमिनार, एससी एवं एसएस, जेएनयू के छात्रों के विचारों एवं कार्य को आकार देने के रूप में कार्य करतें हैं। यह अवसरों/घटनाओं की तृष्णा को शांत करने एवं शैक्षणिक सत्र को राष्ट्रीय एवं विभिन्न विश्वविद्यालयों द्वारा नवीनतम विकास एवं शोध के साथ रुचिकर बनाने के लिए एक कदम हैं। हम विश्व-विजय पाने हेतु, अंधभक्ति पर एक अच्छा प्रभाव पाने के लिए, विभिन्न विश्वविद्यालयों, राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय, उद्योगों के विद्वानों के लिए लाल कालीन बिछाते हैं। सॉफ्टवेर के क्षेत्र में इसकी प्रतिभा की मांग तथा संतोषजनक मापदंड पाने के लिए इसका संचालन किया जाता है।   

 

हम विभिन्न विषयों पर विद्वानों एवं औद्योगिक व्यक्तियों द्वारा दिए गए कुछ व्याख्यानों की सूची प्रस्तुत करना चाहतें हैं:

 

अतीत में आयोजित सेमिनार
विषय:  साहित्य-चोरी एवं नैतिकता की फिसलन ढलान 
वक्ता: डॉ. एन रघुराम (सहायक प्रोफेसर)
विषय: धोखाधड़ी का पता लगाने के लिए दुर्लभ लेबल का प्रचार करना सीखना
वक्ता:  डॉ दिनेश गर्ग
विषय:  सांख्यिकीय एवं तांत्रिक पैटर्न की पहचान तथा संबंधित मशीन सीखने के क्षेत्रों में तीव्र परिमाणिक एवं नमूने के अकार के पैटर्न
वक्ता:  प्रो. सरुनस रौड्य्स
विषय:  अनुकरण के माध्यम से आशावादी बनना 
वक्ता:  प्रो. शलभ भट्नागर
विषय:  मिश्रित डाटा केन्द्रों एवं उर्जा जागरूक एकत्रीकरण में गतिशील लौकिक कार्य बोझ 
वक्ता:  प्रो. दीप मेढ़ी
विषय:  जटिल सामाजिक-आर्थिक प्रणाली में काइनेटिक विनिमय मॉडल 
वक्ता:  डॉ. अनिरबान चक्रोबोरती (सहायक प्रोफेसर)
विषय:  जटिल प्रणाली की मल्टी-एजेंट मॉडलिंग
वक्ता:  डॉ. अनिरबान चक्रोबोरती (सहायक प्रोफेसर)
विषय:  अनुमस्तिष्क दानेदार माइक्रोसर्किट परत में गणना: समय, सुनम्यता एवं बाह्य क्षेत्र पुनर्निर्माण
वक्ता:  डॉ. श्याम दिवाकर